haldwani rains damage area - uttarakhandhindinews

हल्द्वानी में बारिश का कहर: घरों मे कहीं मलबा घुसा तो कहीं पानी ने बहा दी भूमि..

हल्द्वानी में बारिश का कहर: हल्द्वानी के काठगोदाम के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बृहस्पतिवार रात को भारी बारिश होने के बाद, देवखड़ी और कलसिया नालों के उफान से 50 से अधिक घरों में पानी और मलबा घुस गया था। कलसिया नाले के किनारे रहने वाले 10 से अधिक परिवार रात में ही अपने घरों को…

अधिक पढ़ें

    Uttarakhand Assembly Monsoon Session 2021: सदन में आज पेश होगा करीब 5300 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट

    Uttarakhand Hindi News Bureau: उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अनुपूरक बजट पेश करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल की अध्यक्षता में हुई कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में मंगलवार को सदन पटल पर रखे जाने वाला बिजनेस तय हुआ। Table of Content (toc) उत्तराखंड विनियोग (2021-22 का…

    अधिक पढ़ें

    Haldwani News: दिनभर धूप के बाद शाम को झमाझम बरसे बादल

    Haldwani News: हल्द्वानी में रविवार को दिन में धूप खिली रही। इस वजह से लोगों ने गर्मी महसूस की। लेकिन शाम होते ही मौसम का मिजाज बदल गया। शाम करीब 5 बजे से झमाझम बारिश शुरू हो गई। बारिश का सिलसिला देर रात तक जारी रहा। शाम करीब 5 बजे हल्की बूंदाबांदी शुरू हुई। देखते…

    अधिक पढ़ें

    Uttarakhand Weather update : पांच अगस्त तक भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट, भूस्खलन और बाढ़ की भी चेतावनी

    उत्तराखंड में सोमवार को कुमाऊं क्षेत्र के जिलों समेत चमोली, रुद्रप्रयाग व पौड़ी जिलों में कहीं कहीं तीव्र बौछार के साथ भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा राज्य में पांच अगस्त तक के लिए भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट रखा गया है।  मौसम विभाग…

    अधिक पढ़ें

      बारिश से मुनस्यारी के माइग्रेशन गांव रालम को जोड़ने वाला पुल ध्वस्त, 1500 की आबादी परेशान

      मुनस्यारी के माइग्रेशन गांव रालम को जोड़ने वाला पुल सीमांत में बारिश के बाद माइग्रेशन गांव रालम को जोड़ने वाला कठ पुल ध्वस्त हो गया है। इस पुल के ध्वस्त हो जाने से माइग्रेशन गांव के 1500 से अधिक की आबादी की दिक्कत बढ़ गई है।  क्षेत्र में 50 घंटे से अधिक समय तक बारिश…

      अधिक पढ़ें

      भारत-चीन बॉर्डर पर लिपूलेख हाईवे नौ दिनों से बंद,चट्टान दरकने से वाहनों की लगी लंबी-लंबी कतारें

       पिथौरागढ़-चम्पावत जिलों में बुधवार को बारिश के चलते पहाड़ी से मलबा गिरने और भूस्खलन से राष्ट्रीय राजमार्ग समेत कई सड़कें बंद हो गईं। पिथौरागढ़-घाट एनएच पर 25 घंटे से अधिक समय तक एनएच पर आवाजाही ठप होने से सीमांत में पटरी से जन जीवन उतर गया। भारत-चीन बॉर्डर पर धारचूला-लिपूलेख नेशनल हाईवे पिछले नौ दिनों…

      अधिक पढ़ें